Google Penguin 4.0 Update Hindi

Google Penguin 4.0 Update in Hindi

Google का  sabse jabardast / khatarnak Penguin 4.0 Update, जिससे  हर  webmaster, हर  Blogger, हर  website administrator डरता  है  वो  अब  Google के  Crawler के  core part में  integrate कर  दिया  गया  है . इस  पोस्ट  में  हम  आपको  Penguin 4.0 update के  बारे  में  maximum information share करेंगे  जो  Google ne 23 September 2016 को  release किया  है . इस  update को  बनाने   में  Google ko 707 days (2 Years) लग  गए .

What is Penguin Update ?

Penguin update ये  Google algorithm का  एक  हिस्सा  है , जो  Google अब  तक  crawler independant था . Penguin program सारे  website ke link profiles को  scan करता  है  और  कुछ  very aggressive mathematical calculations कर  के  website को  एक  score देता  है . ये  स्कोर  मतलब  rank  of that website. So  ye score depend करता   है  आपके  साइट  के  SEO ke ऊपर . Agar SEO over optimized hai, to score low होता  है . और  low score se साइट  को  penalty di जाती  है  जिससे   site ki Google Search me ranking down ho jati hai. Site link profile clean up करने  ke बाद  आपको  next refresh का  wait करना  padta है , taki firse आपकी  site Search engine me rank करनी  शुरू  हो  जाए .

Brief History

Penguin update 2012 में  launch हुआ  था  Panda update के  बाद  जो  ki 2012 में  launch हुआ  था . Penguin 2.0 के  बाद  Penguin 3.0 aaya. Google in updates को  periodically refresh करता  था . जिसका  aim सिर्फ  ये  था  की  internet को  SPAM sites  से  बचाना  था  और  Google Search results में  spamming को रोखना  था . Bohot se bloggers SEO करने  के  लिए  इतने  बैक  links create कर  लेते  है  की  SERP algorithm samj नहीं  पता  ki कोनसी  website really valueable है  और  कौनसी  spam है . इस  update ki वजह  से  स्पैम  kafi हद तक  काम  हो  गया  है . और  थे  latest ओने  is Penguin 4.0 Update which is real time. ये  Core engine में  ही  integrate कर  दिया  गया  है .

Penguin Update is Real Time

Yes, Penguin 4.0 Update is now Real Time. Penguin program ko abhi Google Search Engine ke core crawling engine me hi integrate kar diya gaya hai. Iska matlab hai abhi Penguin updates ke liye wait nahi karna padega. Ye process abhi real time chalte rahegi. Abhi tak Google periodically ye Update launch karte the jisse penalty mili gayi sites ki ranking restore karne ka chance milta tha. Agar penalty wali sites ne unpar koi action nahi liya tha to fir unki penalty nahi hatati thi. Par abhi penalty milne me aur penalty hata ne ke liye aapko wait nahi karna hoga. Agar aapka page properly SEO optimized nahi hai, to Crawl hote hi page ki ranking decrease kar di jayegi.

Good News – Changes will be faster

पहले अगर किसी साइट को penalty milti थी तो उस साइट को उसकी खोई ranking पाने me 6 months से 2 साल तक का लॉन्ग waiting karna पड़ता था . अगले refresh टास्क का वेट करना पड़ता था , पर अब वेस नहीं होगा . क्योंकि ये रियल टाइम algorithm है , changes wuickly reflect होंगे . चाहे वो penalty हो या फिर Recovery. So ye ek good news भी है क्योंकि अगर penalty मिलती भी है तो minimum 3 din ya fir maximum 21 दिन में आपकी साइट पेनल्टी से recover हो सकती है , अगर आपने साइट क्लीन uo की है तो .

Bad News – Hindi Websites

Google अभी  तक  Hindi language detection में  इतना  intelligent नहीं   हो  सका  है , जितना  की  वो  English language के  लिए  keyword detection, analysis और  penalty procedure intelligently करता  है . इस  लिए  इस  update की  वजह  से  Hindi sites me बोहोत  ही  बड़े  fluctuations आ  सकते  है . Hindi aur Hinglish content में  differenctiation का  problem पहले  से  ही  hai. काफी  बड़ी  sites की  traffic 70% तक  decrease हो  gayi है . पर  ये  अभी  analysis फेज  में  ही  है . पर   फिर  भी  Hindi users पर  ये  update अछि  तरह  इन्फ्लुएंस  नहीं  कर  पा  रहा  है .

Bad Links – Negative SEO

अभी  Google ke is update में  ये  सीधा  ही  है  की  बाद  और  Unnatural  links मतलब  negative SEO. अगर  आपके  sites से  किसी  भी  dirty sites से  links आ  रहे  है  तो  be careful, आपको  कभी  भी  penalty मिल  सकती  है . आपको  continuously आपकी   SEO प्रोफाइल  चेक  करती  रहनी  पड़ेगी . इसका  साफ़  मतलब  ये  भी  है  की , कोई  भी  आपके  साइट  का  negative  SEO asaani से  कर  सकता  है . पर  iske   liye  solution bhi hai, wo solution me aapko agle post me properly बताया जायेगा . Is article me hum sirf Penguin 4.0 ke बारे  में  जानेंगे . Dont worry, every problem have a solution. But ek chij hai, Google in bad links को  ignore  कर  सकता  था , पर  अब  ऐसा  नहीं  होगा . in negative links को  भी  consider क्या  जायेगा . ये  अब  negative marking system पर  बेस्ड  है . Be careful while getting links back to yout site.

Important Facts

1. Google Penguin अभी positive aur negative सिंगल्स अभी crawling पर ही calculate कर लेता है . ये अभी Page Rank ke 200 singals में ऐड किया गया है .
2. Penguin abhi पूरी साइट affect नहीं करता , Same as page rank अगर कोई page negative singal expose कर रहा है , तोह सिर्फ वही page ko penalty milegi और उसकी रैंक काम कर दी जाएगी .
3. Penalty detect karna अभी बोहोत मुश्किल हो गया है , क्योंकि penalty अभी page level पर मिलेगी . So keep checking your analytics account.
4. Penguin abhi बोहोत बोहोत granular matlab deeper level पर चेक करता है . अगर किसी पेज का SEO बोहोत एग्रेसिव tarike से किया गया है तो Penguin filter us पेज को ही कैच कर लेगा . और बाकि पेजेज की रैंकिंग fine rahegi. So abhi action ki tor par आपको आपके सभी main topics के articles firse verify करने है और राईट way se optimize karne है .

How to know If you are affected by Penguin

पेंगुइन  पेनल्टी  मिली  हे  की  नहीं  ये  जानना  थोड़ा  मुश्किल  है , क्योंकि  इसका  कोई  नोटिफिकेशन  आपको  ईमेल  या   फिर  वेबमास्टर  tool में  नहीं  मिलता . आपको  आपके  analytics account में  जाकर  अपनी  traffic stats देखने  होंगे . अगर  आपको  traffic 50% से  less हो  गया  है , that means you are affected by Penguin and your site is penalized. पर  डरने  की  कोई  बात  नहीं  है , अगर  आप  penalized भी  होते  है , तो  तुरंत  हम  उस  पेनल्टी  को  हटा  सकते  है . पेनल्टी  से  recover कैसे  करे , इसका  पूरा  solution aapko mere next post me dunga. App हमारा  FB Page Like करेंगे तो हमें बोहोत ख़ुशी होगी !

source by

seo-information-google-penguin

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s